खजूर के फायदे और नुकसान – Dates Benefits and Side Effects in Hindi

dates in Hindi

विषय सूची

उपक्षेप – Introduction

खजूर हमारे स्वास्थ्य के बहुत ही लाभदायक है। इसके कई सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं। खजूर  फाइबर से भरपूर होता है और खजूर  में स्वाद के साथ ही सेहत के भी कई राज छुपे हैं।  खजूर में पाए जाने वाले सभी पोषक तत्व हड्डियों को मजबूत (Dates For Strong Bones)  बनाने  के साथ ही हड्डियों  से जुड़ी परेशानियों को दूर करने में भी मदद करते हैं।  खजूर मेटाबॉलिजम (Metabolism) को बेहकर करने में मददगार हो सकता है।  खजूर में एक दो तीन नहीं कई सारे  पोषक तत्‍व पाए जाते हैं।  खजूर शरीर के  ब्लड प्रेशर लेवल को कंट्रोल (Dates For Blood Pressure) करने में काफी  मदद करता है। ज्यादा महंगा ना होने की वजह से सभी वर्ग के लोग इसे आसानी से उपयोग करते है।  इसे मीठे फलों का राजा भी  कहा जाता है। नारियल के गुण के साथ साथ खजूर भी बहुत फायदेमंद होते हैं।  यही वजह है इसके पेड़ को आल पर्पस ट्री कहा जाता है। 

खजूर क्या है – What is Khajoor in Hindi

खजूर की बात करें तो  यह एक लोकप्रिय खाद्य पदार्थ है। खजूर को इंग्लिश में डेट्स तो अरबी में तवारीख और फ्रेंच में पामियर के नाम से जाना जाता है। खजूर को ताड़ यानी पाल्म ट्री की प्रजाति का माना गया है। इसका पेड़ काफी बड़ा होता है और पत्तियां भी करीब चार-छह मीटर लंबी होती हैं। इसका वैज्ञानिक नाम फीनिक्स डैक्टाइलिफेरा (Phoenix Dactylifera) है ।

 आपको बता दें कि खजूर की खेती सबसे पहले इराक में शुरू हुई थी, जिसके बाद यह अरब और अन्य देशों में उगाया जाने लगा। खजूर का सिर्फ फल ही नहीं, बल्कि इसके बीज भी बहुत उपयोगी होते  हैं। कई बार इसके बीजों को कॉफी बीन्स में मिलाया जाता है इसके  अलावा इसका प्रयोग कॉफी के विकल्प के रूप में भी  किया जाता है।   इसका तेल कॉस्मेटिक और साबुन बनाने में भी प्रयोग किया जाता  है। आपको बता दें कि ताजे खजूर का समय  अगस्त से दिसंबर तक ही   होता है, लेकिन सूखे खजूर हर समय हर मौसम में उपलब्ध रहते हैं।

खजूर का पोषण – Nutritional Value of Dates in Hindi

खजूर में पोषक तत्वों का भंडार है इसलिए  इसको वंडर फ्रूट भी माना जाता है। खजूर में  आयरन, मिनरल, कैल्शियम, अमीनो एसिड, फॉस्फोरस और विटामिन्स से भरपूर  होता है जो आपकी सेहत को तो बरकरार रखेगा ही साथ ही आपकी  खूबसूरती भी निखरेगा ।

खजूर  ग्लूकोज और फ्रुक्टोज का खजाना होता है जो  मधुमेह में सहायक होने के साथ ही इम्यून पावर को भी बूस्ट करता है  इसमें कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है और एक खजूर से 23 कैलोरी मिलती है।  इसके साथ ही यह सेल डैमेज, कैंसर से बचाव और दिल से जुड़ी समस्याओं से बचाव में भी बहुत कारगर है।  आपको बता दें कि खजूर में पर्याप्त मात्रा में ग्लूकोज, फ्रक्टोज और सुक्रोज पाया जाता है।  इसलिए तुरंत ताकत के लिए इसका सेवन बहुत फायदेमंद होता है।  दो से चार खजूर खाने से भी आपको तुरंत ही ताकत  मिल जाएगी।

मिनरल्स कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, जिंक,सोडियम।

विटामिन- विटामिन बी-6, विटामिन ए, विटामिन के, नियासिन, राइबोफ्लेविन, धायमिन।

खजूर में पाए जाने वाले पोषक तत्व – Nutritional Value of Dates in Hindi

 पोषक तत्त्व (मूल्य प्रति 100 ग्राम)

  • पानी: 21.32 ग्राम
  • ऊर्जा: 277 किलो कैलोरी
  • प्रोटीन: 1.81 ग्राम
  • वसा: 0.15 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट: 74.97 ग्राम
  • रेशा: 6.7 ग्राम
  • शुगर: 66.47 ग्राम

खनिज पदार्थ 

  • कैल्शियम: 64 मिग्रा
  • आयरन: 0.9 मिग्रा
  • मैग्नीशियम: 54 मिग्रा
  • फास्फोरस: 62 मिग्रा
  • पोटैशियम: 696 मिग्रा
  • सोडियम: 1 मिग्रा
  • जस्ता: 0.44 मिग्रा

विटामिन       

  • विटामिन A: 7 ग्राम
  • विटामिन B1: 0.05 मि.ग्रा
  • विटामिन B2: 0.06 मिग्रा
  • विटामिन B3: 1.61 मिलीग्राम
  • विटामिन B6: 0.249 मि.ग्रा
  • विटामिन K: 2.7 µg
  • फोलेट: 15 ग्राम

खजूर के प्रकार – Types of Dates in Hindi

खजूर के कई प्रकार होते हैं दुनिया भर में सौ से ज्यादा किस्म के खजूर पाए जाते हैं हम आपको कुछ खजूर के नाम नीचे बता रहे हैं। आइये जानते हैं कौन सा खजूर हमारे सेहत के लिए कैसे फायदेमंद है:

अजवा (Ajwa) – अजवा खजूर काफी प्रसिद्ध खजूर ह है। यह  अरब के मदीना से आने वाला  खजूर  है जो स्वाद के साथ ही सेहतमंद के लिए काफी फायदेमंद होता है।  अजवा खजूर मुलायम होता है। यह  अन्य खजूर की तुलना काफी  छोटा होता है। आपको बता दें कि इस खजूर को खाने के बाद मुंह से गुलाब के फूल की खुशबू आने लगती है ।

डेगलेट नूर (Deglet noor) – डेगलेट नूर ट्यूनीशिया और अल्जीरिया की सबसे अच्छी खजूर की किस्मों में से एक है। इसकी सबसे खास बात यह है कि यह थोड़ा सूखा और कम मीठा होता है। यह एक नहीं बल्कि कई पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता है। डेगलेट नूर खजूर का इस्तेमाल आमतौर पर भोजन में किया जाता है।

मेडजूल (Medjool)– मेडजूल खजूर की उत्पत्ति मोरक्को में हुई थी। यह  काफी स्वादिष्ट होता  है। इसका   स्वाद टॉफी की तरह होता है। मेडजूल को सबसे पौष्टिक खजूर  भी माना जाता है। यह काले खजूर की सबसे आम प्रजाति है।

हल्लवी (Hallabi) – हल्लवी खजूर की प्रजाति का सम्बन्ध  इराक से है । यह खजूर ताजा खाने में काफी स्वादिष्ट लगता है। इसमें घुलनशील ठोस पदार्थ 28 से 42 प्रतिशत के बीच होते हैं। हल्लवी खजूर बारिश को भी काफी हद तक सहन कर सकते हैं। हल्लवी खजूर अन्य खजूरों के मुकाबले बेहद मीठा  होता है। हेल्लवी खजूर आकार में छोटा होता है।

बरही (Barhee) – बरही खजूर  का रंग सुनहरा  पीला   होता है। यह खजूर अपने अलग स्वाद और अधिक गूदे के लिए जाना जाता है। इस खजूर में ज्यादा गूदा होने की वजह से यह अन्य खजूरों के मुकाबले मोटा होता है। साथ ही बरही खजूर काफी मुलायम भी होता है।

हयानी (Hayany)– हयानी खजूर काफी मुलायम होने के साथ ही काफी गहरे रंग का होता है। हयानी खजूर को ताजा ही खाना चाहिए, क्योंकि यह पकने या ड्राई होने की अवस्था तक पहुंचते-पहुंचते खराब हो जाता है।

खदरावई (Khadrawi) – खदरावई खजूर सबसे ज्यादा इराक में ही पाया जाता है। इस खजूर के पेड़ अन्य खजूरों के मुकाबले कम लंबे होते हैं। इसे सूखे खजूर या छुआरे और ताजे फल दोनों तरह से खाया जा सकता है।

डेयरी (Dayri) – यह खजूर काले रंग का होता है। साथ ही यह अन्य खजूरों के मुकाबले काफी लंबा होता है।

इतिमा (Itima) – यह खजूर भी स्वाद में काफी मीठा होता है। इतिमा अल्जीरिया की प्रजाति है

कोलेस्ट्रोल होगा कम

क्या आप जानते हैं कि डेट्स में कोलेस्ट्रॉल और यहां तक की शुगर की मात्रा भी बहुत कम होती है। रोजाना अपनी डाइट में थोड़ी मात्रा में डेट को शामिल कर आप अपने कोलेस्ट्रोल का ख़याल रख सकते हैं और साथ ही इससे आपका वजन कम करने में भी आपको मदद मिलेगी।

प्रोटीन से भरपूर

अधिक मात्रा में मौजूद प्रोटीन आपकी मसल्स को मजबूत रखने में काफी सहायता प्रदान करता है। इसलिए अधिकांश जिम करने वाले लोगों को खजूर खाने की सलाह दी जाती है। तो अगर आप भी अपनी मसल्स की मजबूती चाहते हैं तो प्रोटीन से लबरेज डेट जरूर खाइए।

विटामिन का स्रोत

डेट्स मे विटामिन b1, b2, b3, b5 के साथ-साथ विटामिन A और C भी पाए जाता है। अगर आप रोजाना डेट का सेवन करते हैं तो आपको विटामिन सप्लीमेंट लेने की कोई जरूरत नहीं पड़ती। साथ ही इसमें मौजूद ग्लूकोज, सुक्रोज और फ्रुक्टोज पूरे दिन आपके शरीर में स्फूर्ति बनाए रखते हैं ।

डायरिया में काफी लाभदायक है

 डायरिया एक बहुत ही आम बीमारी है जो बरसात के समय ज्यादा होती है डायरिया आपके पाचन तंत्र को हिला कर रख देता है और डायरिया के समय खजूर का सेवन करना डायरिया को ठीक कर सकता है यदि आपको डायरिया है तो रोज सुबह में नाश्ते के समय काजू खिलाएं 3 दिन में डायरिया ठीक हो जाएगा। 

हड्डियों को रखें मजबूत

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि डेट में मौजूद मैंगनीज, सेलेनियम, कॉपर, मैग्नीशियम जैसे तत्व आपकी हड्डियों की तंदुरुस्ती के लिए काफी कारगर होते हैं। और आपको ऑस्टियोपोरोसिस जैसे रोगों से सुरक्षित रखने में सहायता करते हैं। सोडियम की मात्रा कम होने के कारण ये आपके नर्वस सिस्टम को संतुलित रखने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद

गर्भवती महिलाओं को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता  है। रेगुलर  दवाई लेने के बावजूद कुछ ना कुछ  समस्या उत्पन्न होती रहती है ।  अगर गर्भवती महिलायें पूरी तरह से स्वास्थ रहना चाहती हैं  तो खजूर का सेवन जरूर करें। खजूर माँ और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। खजूर खाने से डिलीवरी में होने वाली सारी परेशानी दूर होती है, और माँ के शरीर में दूध की मात्रा भी बढती है।

 आयरन की ताकत

आपके दांतों को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी फ्लोरीन के अलावा डेट में आयरन भी मौजूद होता है। आयरन की कमी शरीर में कई तरह की परेशानियों को जन्म दे सकती है। जैसे सांस का छोटा होना, एनीमिया, थकान आदि. साथ ही ये आपके खून को साफ करने में भी मदद करता है।  खजूर में आयरन की भरपूर मात्रा होती है और यह एनीमिया अर्थात खून की कमी को भी ठीक करता है।

 पाचन तंत्र की मजबूती

अगर आप रोजाना सुबह पानी भिगो के रखी खजूर का सेवन करते हैं तो इसमें मौजूद फाइबर आपके पाचन तंत्र को बेहतर करने में मदद करते हैं। यही वजह है कि कॉन्स्टिपेशन के मरीजों को इसे खाने की सलाह दी जाती है।

त्वचा निखारने में मददगार है खजूर

विटामिन सी से भरपूर खजूर त्वचा के लचीलेपन को बरकरार रखकर उसे कोमल बनाता है। खजूर में मौजूद विटामिन C और D आपकी स्किन को ढीला होने से रोकते हैं यानी ये आपके चेहरे पर झुर्रियों से लड़ते हैं। साथ ही ये आपकी त्वचा को कोमल बनाने में भी आपकी मदद करते हैं।   इसमें पाया जाने वाला विटामिन बी त्वचा के लिए लाभकारी है।  इसकी कमी  से त्वचा की कई समस्याएं उत्पन्न होती है। विटामिन बी एक प्राकृतिक स्रोत होने कारण, यह त्वचा के स्ट्रेच मार्क्स को हटाने के लिए उपाय में बेहतर है।

यौन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक

खजूर यौन स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक और अच्छा माना जाता है।  ऐसा इसलिए क्योंकि खजूर में प्रोटीन में 23 तरह के अमीनो एसिड पाए  जाते हैं  , जो यौन स्वास्थ्य के लिए काफी  लाभदायक होते हैं। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि यौन स्वास्थ्य ठीक करने में केवल प्राकृतिक तरीके से मिलने वाले एमिनो एसिड ही मदद करते हैं । एक भारतीय अध्ययन के अनुसार, खजूर का पराग भी यौन स्वास्थ्य बनाए रखने में मदद करता है। इसे प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। खजूर के पराग का उपयोग यौन संबंधी समस्या दूर करने के लिए दवाओं में भी किया जाता है।

खजूर के बालों के लिए लाभ (Dates benefits for hair)

बालों  को स्वस्थ्य और  अच्छे  रखरखाव के लिए पर्याप्त पोषण की जरूरत होती है, खजूर  का नियमित  उपयोग आपके  बालों के लिए काफी  फायदेमंद हो सकता  है।   खजूर में विटामिन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, विशेष रूप से विटामिन b , जो स्वस्थ बालों के रख रखाव के लिए  काफी जरुरी  है।  इसकी कमी बाल झड़ने, भंगुर बाल जैसी बालों की समस्याओं का कारण हो सकती है। इसलिए इसके नियमित सेवन से बालों की समस्या से बचा जा सकता है।

बालों को झड़ने से बचाने के लिए में भी खजूर काफी लाभदायक है।   खजूर आपके बालों के  लिए काफी लाभदायक  है हर दिन 2-3 खजूर का सेवन आपके बालों के रोम को मजबूत और स्वस्थ्य बनायेगा , जिससे बल झड़ने की समस्या से आप बच सकते हैं।

रात का अंधापन मिटाए

बहुत सारे  लोगों को रात में देखने में काफी परेशानी होती है, इस बीमारी को दूर करने के लिए खजूर की पत्ती  बहुत लाभदायक है। खजूर की पत्ती को पीस कर आँख के आस पास लगायें व खजूर को रोज खाया करें। इस उपाय का प्रयोग गाँव में बहुत ही प्रचलित है।  इसके अलावा खजूर आँखों को भी स्वस्थ रखता है।  एक रिसर्च  के अनुसार रोज खजूर खाने से ज़िन्दगी भर आँखे स्वस्थ रहती हैं। खजूर में विटामिन A होता है जो आँखों की रोशनी बढ़ने में बहुत अधिक सहयोगी होता है।

हैंगओवर उतारने के लिए फायदेमंद है खजूर 

 बहुत कम ही लोगों को पता है कि हल्का से घिसने के बाद रात भर पानी में भिगोए हुए खजूर आपका हैंगओवर उतारने में आपकी मदद कर सकते हैं। तो रात को नशे में धुत्त होने से पहले खजूर को पानी में डालकर रखना ना भूलें। जिससे आपको दिन में नशे का अहसास न हो।

खजूर खाने का सही तरीका – Right Way to Eat Dates in Hindi

खजूर खाने की सलाह अधिकतर सुबह दी जाती है। रोज सुबह दुध और खजुर खाने के चौंकाने वाले फायदे । इसके साथ ही रोजाना सुबह 4 से 5 खजूर खाने से कई सारे फायदे मिलते हैं। अगर आप में खून की कमी है तो खजूर के फायदे (khajur ke fayde) आपके लिए कई सारे हो सकते हैं। लगभग 21 दिनों तक खजूर खाने की सलाह दी जाती है जिससे शरीर में आयरन की कमी पूरी होने में मदद मिलती है जिसके बाद हीमोग्लोबिन बढ़ाने में मदद मिलती है।

जो लोग गठिया से परेशान हैं उन लोगों को दिन में 3 से 4 खजूर दूध में उबालकर खाने की सलाह दी जाती है। अगर आपको पेट से जुड़ी परेशानी जैसे कि दस्त, कब्ज की अक्सर शिकायत रहती है तो रोजाना सुबह खाली पेट 4 से 5 खजूर खाने चाहिए। ऐसा करने से पाचन शक्ति स्वस्थ तरीके से काम करती है।

खजूर खाने का समय होता है सुबह नाश्ते में यदि आप शारीरिक मेहनत वाला काम करते हैं जैसे कि यदि आप कोई खिलाड़ी है या जिम जाते हैं या किसी प्रकार के मजदूर हैं और आपको काम करते काफी पसीना आता है तो आप एक दिन में 10 खजूर खा सकते हैं पर यदि आप किसी ऑफिस में बैठ कर काम करते हैं तो आपको 1 दिन में 4 – 5 खजूर ही  खाने चाहिए खजूर को खाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप खजूर अच्छी तरह चबाकर खाएं और ऊपर से दूध पी लें आप नाश्ते के साथ इसका सेवन कर सकते हैं ।

ज्यादा खजूर खाने से होते हैं ये नुकसान – Side Effects of Eating Dates in Hindi

 खजूर खाने के कई सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं ये हमने आप सभी को बताया, लेकिन क्या आप खजूर से होने वाले नुकसान (Dates Harmful Effects) के बारे में जानते हैं। आपको बता दें कि फाइबर से भरपूर खजूर में स्वाद के साथ ही सेहत के भी कई राज छुपे हैं। खजूर में पाए जाने वाले सभी पोषक तत्व हड्डियों को मजबूत (Dates  For Strong Bones) करने के साथ ही इससे जुड़ी परेशानियों को दूर करने में भी मदद करते हैं, लेकिन ज्यादा सेवन आपको मुश्किल में डाल सकता है। खजूर का सेवन करने से पहले नीचे दिए गए खजूर से उसके नुकसान के बारे में भी जान लें। खजूर से होने वाले नुकसान इस प्रकार हैं-

 ज्यादा खजूर खाने से बढ़ सकता है वजन

 हमने अक्सर यही सुना है की खजूर आपका वजन कम करने में फायदेमंद होता है लेकिन आपको बता दें कि ज्यादा खजूर खाने से  यह भी  माना जाता है कि   आपका मोटापा बढ़ सकता है ।  क्योंकि  खजूर में फाइबर  की मात्रा  और कैलोरी भी  पाई जाती है। इसलिए इसका फायदा और नुकसान इसके  सेवन की मात्रा पर निर्भर करता है कि आप वजन घटाना चाहते हैं या वजन बढ़ाना।

अस्थमा का खतरा

यह सभी को पता है की खजूर एलर्जी का कारण भी  बनता है और एलर्जी  के कारण अस्थमा  बढ़ने का खतरा होता है। इसलिए  अस्थमा के रोगियों को खजूर का सेवन करते समय  इन सब बातों को   ध्यान में  रखने की जरूरत होती  है।  खजूर का ज्यादा सेवन करने से अस्थमा की समस्या हो सकती है।  

बच्चों के लिए नुकसानदायक

खजूर बच्चों के लिए नुकसानदायक हो सकता है।  खजूर को मोटे ड्राई फ्रूट्स में से एक माना जाता है।  खजूर को पचाने के लिए इसे ठीक से चबाने की जरूरत होती है।  बच्चों की आंत विकासशील अवस्था में होती है, जिससे खजूर को पचाना मुश्किल हो जाता है।  इसलिए बच्चों को जितना हो सके कम ही खजूर दें।

खजूर से स्किन रैशेज की भी समस्या

खजूर में सल्फाइट की मात्रा  होती है।   जो आपकी त्वचा के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है।  खजूर का ज्यादा सेवन करने से स्किन पर रैशेज हो सकते हैं।  अगर आप खजूर का सही मात्रा में सेवन करते हैं तो आपको कई सारे लाभ भी मिल सकते हैं।

खजूर से पेट की समस्याएं

 खजूर का ज्यादा सेवन करने से आपका पेट भी खराब हो सकता है।  आमतौर पर  खजूर को पाचन के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है, लेकिन अगर खजूर ऑर्गेनिक होने की बजाय प्रिजर्वेटिव हो तो यह आपके लिए समस्या भी उत्पन्न कर सकता है ।  खजूर में सल्फाइड पाया जाता है जो पेट के स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है।  जबकि इस रासायनिक यौगिक का अत्यधिक सेवन सभी के लिए नुकसानदायक है, जो लोग सल्फाइट के प्रति संवेदनशील होते हैं उन्हें गंभीर एलर्जी प्रतिक्रियाएं होती हैं। 

निष्कर्ष – Conclusion

जैसा की इस लेख को पढ़कर आपको खजूर से जुडी हर जानकारी मिल गयी होगी। इस लेख में हमने खजूर से सम्बंधित उसके सारे लाभ और नुकसान के बारे में अच्छे से समझा दिया है।  जिससे मुझे उम्मीद है की आपको मेरा यह लेख बहुत ही उपयोगी लगा होगा।  खजूर में मौजूद बहुत  सारे पोषक तत्वों की वजह से इसे जीवनशैली का हिस्सा बनाना  बहुत ही  जरूरी है, लेकिन खजूर  खाते और खरीदते समय स्टाइलक्रेज के इस लेख में बताई गई बातों को जरूर ध्यान में  रखें। मुझे आशा है कि आपको मेरा यह लेख बहुत पसंद आया होगा और आपको यह उपयोगी लगा होगा। यदि आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे आप अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर कर सकते हैं। और हाँ अगर कोई टॉपिक छूट गया हो या फिर आपका कोई सुझाव हो तो आप कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं। हम उस पर अमल करने की पूरी कोशिश करेंगे ।

संदर्भ – References

Photo of Chetu Singhi
Chetu Singhi is a popular Nutritionist in Park Street, Kolkata. She has had many happy patients in her 4 years of journey as a Nutritionist. She has completed Diploma in Obesity Management & Clinical Medical Condition, Diploma in Dietetics, Health and Nutrition (DDHN), Diploma in Sports & Fitness, Certificate in Child Nutrition.

    Leave a Comment

    ZOTEZO IN THE NEWS

    ...