Vajan Badhane Ka Tarika in Hindi – वजन बढ़ाने के तरीके

vajan badhane ka tarika

उपक्षेप – Introduction

यदि आप कोई ऐसे व्यक्ति है जो vajan badhane ka tarika की तलाश में है, तो आप सही पृष्ठ पर हैं।

आमतौर पर, पूरे देश के लोग मोटापे और वजन बढ़ने जैसी समस्याओं से पीड़ित हैं। लेकिन, वजन कैसे बढ़ाया जाए यह भी एक खोजा गया विषय है।

जैसे अधिक वजन या मोटापा एक समस्या है, उसी तरह पतला होना भी एक गंभीर समस्या है। अक्सर कम वजन वाले लोग अपना  vajan badhane ka tarika यानि वजन बढ़ाने के तरीकों की तलाश करते हैं और इसे सामान्य स्थिति में लाते हैं।

आप किसी व्यक्ति को कम वजन वाले कहते हैं जब आप देख सकते हैं कि वह व्यक्ति पतला है और आप उसकी त्वचा के नीचे की हड्डियों को देख सकते हैं। पतला होना कोई समस्या नहीं है लेकिन यह आपके आत्मविश्वास की बात है।

आइए देखते हैं कि आपको vajan badhane ka tarika यानि मोटा होने के उपाय  ke मुझे जानने की क्या आवश्यकता है|

क्या आपको वास्तव में वजन बढ़ाने की आवश्यकता है? – Do you Really Need to Gain Weight?

कम वजन या अधिक वजन होना बेसल मेटाबॉलिक रेट या बीएमआई, BMI पर निर्भर करता है।

कम वजन वाले लोगों के पास 18.5 से कम का बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) होता है या उनकी उम्र और ऊंचाई समूह के लिए सामान्य से 15% से 20% कम होता है। बहुत से लोग कभी-कभी पतले होते हैं फिर भी वे फिट होते हैं और कोई समस्या नहीं होती है। सामान्य रूप से कम वजन की समस्याएं महिला लिंग में पाई जाती हैं। इन दिनों पुरुषों और महिलाओं को vajan badhane ka tarika जानना आवश्यक है |

पुरुषों और महिलाओं के शारीरिक और शारीरिक अंतर के लिए अलग-अलग चार्ट हैं। पुरुषों के लिए ऊंचाई वजन चार्ट आपके संदर्भ के लिए नीचे दिया गया है।

हाइट वेट चार्ट फॉर मेन – Height Weight Chart for Men in Hindi

Height Height
InchesCentimetres Weight in Kilograms
4’6”13728.5 – 34.9
4’7”14030.8 – 38.1
4’8”14233.5 – 40.8
4’9”14535.8 – 43.9
4’10”14738.5 – 46.7
4’11”15040.8 – 49.9
5’0”1524.1 – 53
5’1”15545.8 – 55.8
5’2”15748.1 – 58.9
5’3”16050.8 – 60.1
5’4”1635.0 – 64.8
5’5”16555.3 – 68
5’6”16858 – 70.7
5’7”17060.3 – 73.9
5’8”17363 – 70.6
5’9”17565.3 – 79.8
5’10”17867.6 – 83
5’11”18070.3 – 85.7
6’0”18372.6 – 88.9

हाइट वेट चार्ट फॉर वुमन – Height Weight Chart for Women in Hindi

Height Height
InchesCentimetres Weight in Kilograms
4’6”13728.5 – 34.9
4’7”14030.8 – 37.6
4’8”14232.6 – 39.9
4’9”14534.9 – 42.6
4’10”14736.4 – 44.9
4’11”15039 – 47.6
5’0”15240.8 – 49.9
5’1”15543.1 – 52.6
5’2”15744.9 – 54.9
5’3”16047.2 – 57.6
5’4”16349 – 59.9
5’5”16551.2 – 62.6
5’6”16853 – 64.8
5’7”17055.3 – 67.6
5’8”17357.1 – 69.8
5’9”17559.4 – 72.6
5’10”17861.2 – 74.8
5’11”18063.5 – 77.5
6’0”18365.3 – 79.8

कम वजन होने के कारण – Kam Vajan Hone Ke Karan

लोग अक्सर जानना चाहते हैं vajan badhane ka tarika जानना चाहते हैं, लेकिन उन्हें यह जानना आवश्यक है कि शरीर के कम वजन के कारण क्या हैं। ऐसे कई कारण हैं जिनकी वजह से व्यक्ति कम वजन का हो सकता है। कभी-कभी, कई अंतर्निहित कारण मिल सकते हैं। कम वजन के कारणों में शामिल हैं:

1. परिवार के इतिहास – Family History

अक्सर लोग अपने परिवार के इतिहास में चलने वाली शारीरिक विशेषताओं के कारण कम वजन वाले या कम बी एमआई वाले होते हैं।

2. एक उच्चतर मेटाबोलिज्म रेट – Higher Metabolism Rate

जिन लोगों की चयापचय दर अधिक होती है वे वसा प्राप्त किए बिना उच्च-कैलोरी खाद्य पदार्थों को पचाने में सक्षम होते हैं। वे भाग्यशाली हैं जो अपने खाने की आदतों की तुलना में वजन पर नहीं डालते हैं।

3. थायराइड की समस्या – Thyroid kee Samasya 

अगर आप हाइपरथायरायडिज्म यानि थायराइड से अधिक पीड़ित हैं तो आप शरीर के कम वजन का सामना कर सकते हैं।

4. शारीरिक बीमारी या पुरानी बीमारी – Sharirik Bimari ya Purani Bimari

कुछ रोग प्रकार हैं जो नियमित रूप से मतली, उल्टी और दस्त का कारण बनते हैं, जिससे वजन बढ़ना मुश्किल हो जाता है। अन्य स्थितियों से व्यक्ति की भूख कम हो सकती है, इसलिए उन्हें खाने का मन नहीं करता है। उदाहरणों में कैंसर, मधुमेह, थायरॉइड विकार और पाचन की स्थिति आदि शामिल हैं।

5. मानसिक बीमारी – Mansik Bimari

यदि आपको अवसाद का पता चलता है तो आप लगातार कम वजन का शिकार हो सकते हैं। खराब मानसिक स्वास्थ्य होने से एनोरेक्सिया की तरह खाने की आपकी क्षमता प्रभावित हो सकती है। मानसिक बीमारी आपके आत्मविश्वास के स्तर और भूख को प्रभावित कर सकती है।

6. संक्रमण होना – Having Infections

कभी-कभी तपेदिक, एचआईवी या एड्स जैसे रक्त में कुछ संक्रमण होने का कारण कम वजन होना हो सकता है।

सामान्य से कम वजन अंडरवेट होने की समस्या – Samanya Se Kam Vajan Hone ki Samasya

अधिक वजन होने के कारण स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि अधिक वजन होना। सभी लोग जो कम वजन के हैं, वे प्रतिकूल दुष्प्रभावों या लक्षणों का अनुभव करते हैं।

त्वचा, बाल या दांतों की समस्या

यदि किसी को अपने दैनिक आहार में पर्याप्त पोषक तत्व नहीं मिलते हैं, तो उन्हें शारीरिक समस्याएं जैसे कि त्वचा का पतला होना, बालों का झड़ना, शुष्क त्वचा, या यहां तक कि खराब दंत स्वास्थ्य भी हो सकता है।

बार-बार बीमार पड़ना

जब आपको स्वस्थ शरीर के वजन को बनाए रखने के लिए अपने आहार से पर्याप्त पोषक तत्व नहीं मिलते हैं, तो आप प्रतिरक्षा खो सकते हैं और बहुत बार बीमार पड़ सकते हैं। और, यहां तक कि आम सर्दी और बुखार जैसी बीमारियां भी। अधिक समय तक चल सकता है |

ऑस्टियोपोरोसिस

यदि कोई महिला कम वजन की है तो इस बात की संभावना अधिक होती है कि महिला को भंगुर हड्डियों का खतरा होगा। वे ऑस्टियोपोरोसिस और ऑस्टियोआर्थराइटिस के जोखिम को विकसित कर सकते हैं।

हर समय थकान महसूस करना

आप जितनी अधिक कैलोरी का उपभोग करते हैं, वह पूरे दिन ऊर्जावान बनाए रखने के लिए ऊर्जा में परिवर्तित हो जाती है। यदि आपको आवश्यक कैलोरी नहीं मिल रही है, तो आप पूरे दिन थका हुआ महसूस कर सकते हैं।

धीमा या बिगड़ा हुआ विकास

जो लोग युवा हैं उन्हें स्वस्थ विकास के लिए अधिक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। कम वजन और पर्याप्त कैलोरी नहीं मिलने का मतलब यह हो सकता है कि कोई व्यक्ति उम्मीद के मुताबिक विकास या विकास नहीं कर सकता है।

रक्ताल्पता

एक कम वजन वाला व्यक्ति निम्न रक्त गणना विकसित कर सकता है जिसे एनीमिया कहा जाता है। इसके कारण चक्कर आना, सिरदर्द और थकान होती है। इसलिए vajan badhane ke tarika के बारे में जानना बहुत जरूरी है।

स्त्री रोग संबंधी समस्याएं

यदि आप एक महिला हैं जो कम वजन की है तो यह कुछ स्त्रीरोग संबंधी समस्याओं जैसे अनियमित पीरियड्स, बांझपन या समय से पहले जन्म का कारण बन सकती है। इस लेख में आप पा सकते हैं mota hone ke gharelu tips in hindi.

वजन बढ़ाने के तरीका हिंदी मे – Vajan Badhane Ka Tarika Hindi Mein

कुछ ऐसे तरीके हैं जिनसे आप अपना वजन बढ़ा सकते हैं और स्वस्थ और खुशहाल जीवन जी सकते हैं।

प्रथम वजन बढ़ाने का तरिका है उचित आहार – Pehla Vajan Badhane Ka Tarika Hai Uchit Aahar

उच्च कैलोरी और यहां तक कि उच्च प्रोटीन वाला आहार लें। अपने आहार में ताजी सब्जियां, डेयरी और मांस शामिल करें। प्रोटीन में अमीनो एसिड होता है जो मांसपेशियों की वृद्धि में मदद कर सकता है |

दूसरा वजन बढ़ाने का तरिका है उचित और गहरी रातों की नींद – Doosara Vajan Badhane Ka Tarika Hai Uchit Aur Gehri Raton Ki Neend

जिस प्रकार उचित आहार की आवश्यकता होती है ठीक उसी प्रकार रात की नींद भी वजन बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण है। वयस्कों को शून्य गड़बड़ी के साथ रात में कम से कम 8 घंटे सोना चाहिए। अच्छी नींद लेने से हमारी तन में नयी कोशिकाएं बनती है और पुरानी कोशिकाएं नए कोशिकाओ में तब्दील होती है | इसलिए, अच्छी तरह से आराम करना बहुत महत्वपूर्ण है।

तीसरा वजन बढ़ाने का तरिका है नियमित रूप से व्यायाम करें – Teesara Vajan Badhane Ka Tarika Hai Niyamit Roop Se Exercise Karen

आपको हमारे दैनिक जीवन में व्यायाम के महत्व के बारे में अच्छी तरह से पता होना चाहिए। जब आप सप्ताह में 5 दिन ठीक से व्यायाम करते हैं तो आपके शरीर में कैलोरी समान रूप से वितरित हो जाती है और पेट की चर्बी नहीं बढ़ती है। व्यायाम पाचन में मदद करता है और आपको भूखा बनाता है। स्वस्थ शरीर के वजन को बनाए रखने के लिए आप योग, स्ट्रेचिंग, रनिंग, साइकिलिंग, जिमिंग या स्विमिंग भी कर सकते हैं।

चौथा वजन बढ़ाने का तरिका है पानी सेवन – Chautha Vajan Badhane Ka Tarika Hai Pani Sevan

वजन बढ़ाने के लिए उचित पानी का सेवन भी फायदेमंद है। हाइड्रेशन का स्तर बनाए रखने के लिए आपके पास हर दिन 6-8 गिलास पानी होना चाहिए। पानी हमारे शरीर में ऊर्जा के स्तर को बनाए रखता है और हमें थका नहीं करता है।

पांचवा वजन बढ़ाने का तरिका है चिंता मत करें- Panchava Badhane Ka Tarika Hai Chinta Mat Karen

जब आप तनाव में होते हैं तो आप अपने शरीर की देखभाल करना भूल जाते हैं और तब आपका शरीर बहुत सारी बीमारियों से प्रभावित हो जाता है। जब आप तनाव ग्रस्त होते हैं तो आप अधिक वजन कम करने लगते हैं। यदि आप सकारात्मक, खुश और तनाव-मुक्त हैं तो आप वजन बढ़ाने के लिए बाध्य हैं।

छठा वजन बढ़ाने का तरिका है जंक फूड का सेवन न करें – Chata Vajan Badhane Ka Tarika Hai Junk Food Ka Sevan Na Kare

कभी-कभी वजन बढ़ाने की कोशिश करने वाले लोग जंक फूड का सेवन करते हैं। जंक फूड वजन बढ़ा सकता है लेकिन आपकी पाचन क्षमता को भी बिगाड़ता है जो मधुमेह और दिल की बीमारियों जैसी बीमारियों का कारण बन सकता है।

मोटा होने के घरेलु उपाय हिंदी में – Mota Hone Ke Gharelu Tips in Hindi

आइये देखते हैं और जानते हैं mota hone ke gharelu tips in Hindi. वैसे तो mota hone ke gharelu tips in Hindi तो बहुत सारे हो सकते है लेकिन जो सबसे फ़ायदेमंद हो सकते है उनके जनलकारी निचे दी गयी है

आलू और डेयरी उत्पाद खाएं

किसी भी रूप में आलू का नियमित सेवन और दूध, पनीर, दही जैसे डेयरी उत्पाद आपको वजन बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। अगर आप शाकाहारी हैं तो वजन बढ़ाने के लिए ये सबसे अच्छे विकल्प हैं।

नॉन-वेज तो चाहिए ही

अपने आहार में मांसाहारी विकल्पों को शामिल करना न भूलें। मछली, चिकन की तरह दुबला मांस, मटन की तरह लाल मांस शामिल करें। ये प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं जो वजन बढ़ाने में मदद करते हैं।

सेक्स करें

नियमित रूप से सेक्स करना आपके शरीर और दिमाग दोनों के लिए अच्छा है। यह तनाव मुक्त करने में मदद करता है। इससे आपको भूख लगती है और उन पलों के बीच में आप सैंडविच, मिठाइयाँ, सूखे खाद्य पदार्थ इत्यादि जैसे कुछ खा सकते हैं।

ड्राई फ्रूट्स लें

जब आप अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं और आनुपातिक रूप से वसा प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको किसमिस, ऐंजर, बादाम, मूंगफली, अखरोट जैसे सूखे फलों का सेवन करना चाहिए। न केवल ये आपको वजन बढ़ाने में मदद करेंगे बल्कि एक स्वस्थ दिल बनाए रखने में भी मदद करेंगे।

वजन बढ़ाने के लिए सप्लीमेंट्स

एक उचित आहार के साथ, आप मट्ठा प्रोटीन, प्रोटीन पाउडर आदि जैसे वजन बढ़ाने की खुराक लेने की भी कोशिश कर सकते हैं, जो मांसपेशियों के विकास और पूरे शरीर में वसा के समान वितरण में मदद कर सकते हैं।

वजन बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक दवा

आपको बाजार में बहुत मिल जायेंगे mota hone ke liye medicine आयुर्वेदिक दवाओं |

च्यवनप्राश:

च्यवनप्राश ऊर्जा का एक बड़ा स्रोत है। आप इसे दूध या जूस में मिलाकर सेवन कर सकते हैं। या, आप बस सुबह या रात में एक बड़ा चमचा खा सकते हैं।

अश्वगंधा:

अश्वगंधा शरीर को मजबूत बनाता है, शरीर को मजबूत बनाता है और शरीर की पाचन क्षमता में भी मदद करता है।

अदरक:

अदरक हमें आसानी से प्राप्त हो जाती है |  यह हमें वजन बढ़ाने के साथ-साथ रक्त संचार, भूख न लगना, अपच और पेट के फूलने की समस्या से छुटकारा दिलाता है |

वज़न बढ़ने यानि मोटा होने के कुछ इम्पोर्टेन्ट टिप्स – Vajan Badhane Ka Tarika Ya Mota Hone Ke Liye Kuch Important Tips

ये सभी mota hone ke gharelu tips in hindi

  1. दिन के समय में कम से कम 45 मिनट की नींद लें
  2. शराब का सेवन सीमित करें
  3. अपने जीवन से तनाव को खत्म करें
  4. धूम्रपान पूरी तरह से बंद कर दें
  5. नियमित रूप से शहद का सेवन करें
  6. भोजन से पहले पानी न पिएं
  7. अगर आप कॉफी लवर हैं, तो तेजी से वजन बढ़ाने के लिए क्रीम लगाएं
  8. हर 2 घंटे के बाद खाने की कोशिश करें
  9. अपना भोजन करने से पहले प्रोटीन लें
  10. अंत में, अपने भोजन को बड़ी प्लेटों में खाएं जिससे मात्रा बढ़े
healthy-weight-gain-infographic

निष्कर्ष – Conclusion

अब आप जानते हैं vajan badhane ka tarika yani mota hone ke gharelu upay | अब आपको शर्माने की जरूरत नहीं है। इन युक्तियों में से किसी का उपयोग करके देखें और अपने शरीर के वजन को आनुपातिक तरीके से बढ़ाएं। यदि आप वजन बढ़ाने के लिए कदम उठा रहे हैं तो अपना कार्यक्रम कभी न बदलें।

यदि आप इन सभी का पालन करते हैं तो आपको अच्छे परिणाम मिलने की उम्मीद है। हमें उम्मीद है कि यह लेख आपके उन दोस्तों और परिवार के बीच साझा करने के लायक है जो mota hone ke gharelu tips in hindi जानना चाहते है।

क्या हमें कुछ महत्वपूर्ण याद आया? आपको यह लेख पसंद आया? कृपया नीचे दिए गए अनुभाग में टिप्पणी करें और यह उल्लेख करना न भूले कि किस तरिका ने आपको वजन बढ़ाने में मदद की।

Tina Ray
Tina Ray
Tina is a wellness enthusiast and a senior content writer at Zotezo.com. In short, she makes sure that any wellness content which goes out is AWESOME!
Dr. Pritpal Singh, MBBS
Dr. Pritpal Singh, MBBS
Dr. Pritpal Singh is amongst the best doctors in Kolkata who is specialized in Nutrition. Dr. Pritpal Singh practices at Addlife Caring Minds Clinic in Sarat Bose Road, Kolkata. A highly trained & specialist doctor who has completed MBBS, and has experience over 6 years as a practicing doctor in Nutrition.

प्रातिक्रिया दे

ZOTEZO IN THE NEWS

...